जुलाई 2022 के माल और सेवा कर कलेक्शन के आंकड़े हुए जारी,GST कलेक्शन 28 फीसदी बढ़कर 1.49 लाख करोड़ रुपये हुआ: वित्त मंत्रालय

0
9

सरकार ने जुलाई 2022 महीने के गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स कलेक्शन के आंकड़े जारी कर दिए हैं. पिछले महीने सरकार को GST के जरिए सालाना आधार पर 28 फीसदी ज्यादा कलेक्शन हुआ है. जुलाई में GST कलेक्शन 28 फीसदी बढ़कर 1.49 लाख करोड़ रुपये हो गया. वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि जुलाई 2017 में जीएसटी लागू होने के बाद से इस साल जुलाई में मंथली टैक्स कलेक्शन दूसरे स्थान पर रहा. इससे पहले अप्रैल 2022 में कलेक्शन 1.68 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया था.जुलाई में सीजीएसटी (CGST) कलेक्शन 25,300 करोड़ रुपये से बढ़कर 25,800 करोड़ रुपये हो गया. एसजीएसटी (SGST) कलेक्शन 32,400 करोड़ रुपये से 32,800 करोड़ रुपये और आईजीएसटी (IGST) कलेक्शन 75,900 करोड़ रुपये से बढ़कर 79,500 करोड़ रुपये हो गया. इस दौरान वस्तुओं के आयात से रेवेन्यू में 48 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. घरेलू लेनदेन (सेवाओं के आयात सहित) से रेवेन्यू पिछले साल की समान तिमाही की तुलना में 22 फीसदी अधिक था.

आर्थिक सुधार के साथ- साथ टैक्स चोरी पर अंकुश लगाने के उपायों की वजह से जुलाई में GST कलेक्शन बढ़ा है. पिछले साल जुलाई 2021 में GST कलेक्शन 1,16,393 करोड़ रुपये था. इस संदर्भ में मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि कि जुलाई 2017 में GST लागू होने के बाद से इस साल जुलाई में कलेक्शन दूसरा सबसे अधिक है. अप्रैल 2022 में GST कलेक्शन 1.68 लाख करोड़ रुपये के रिकॉर्ड हाई पर था.